हमारे उद्देश्य

1.शिक्षा का सर्वव्यापी प्रचार एवं प्रसार इस हेतु शिक्षण समिति के माध्यम से बालको, प्रोढ व्यक्तियों/महिलाओ को समुचित रुप से शिक्षा प्रदान करना, गरीब बच्चो, भीख मांगने वाले बच्चो, शनि महाराज मांगने वाले बच्चो को शिक्षा प्रदान करना एवं स्वरोजगार हेतु प्रशिक्षण की व्यवस्था करना।

2.स्वास्थ्य के क्षैत्र में कार्य करना, टीकाकरण स्वास्थ्य शिविर लगाना जागरुकता अभियान, परिवार नियोजन एवं स्वास्थ्य के विभिन्न कार्यक्रम आयोजित करना, सुदुर गावों तक स्वास्थ्य कार्यक्रमों का आयोजन करना नदी किनारे के गांव में बसे ग्रामीणो को स्वास्थ्य सुविधाए प्रदान करना। पल्स पोलियो में सहभागिता, एड्स जांच, एवं जागरुकता अभियान चलाना, टीबी की जांच एवं जनजागरुकता अभियान चलाना।

3.नदियो का पुर्नउत्थान- क्षिप्रा जयजयवन्ति नदी सहित समस्त नदियो को अतिक्रमण मुक्त करना, उनके केचमेंट एरिया को अतिक्रमण मुक्त करना, जल तीर्थो का पुर्नजागरण, सहायक नदियो, और नालो को पुर्नजीवीत करना।

4.पर्यावरण एवं पौधारोपण- पर्यावरण सरंक्षण हेतु कार्य करना वृहद् रुप से पौधा रोपण करना, पहाडो को बचाना, जैवविविधता पर कार्य  करना, ठोस अपशिष्ट पालिथिन प्रदुषण एवं शहर के अन्य प्रदुषणों जैसे ध्वनि प्रदुषण आदि से मुक्ति के लिए प्रयास करना।

5.विकलांग महिला पुरुषो और उनके बच्चो के विकास के लिए कार्य करना। 

6.कृषि विकास कृषि तकनीक एवं जैविक कृषि के विकास के लिए कार्य करना।

7.बेसहारा महिलाओ समाज की सताई हुई महिलाओ, अक्षम महिलाओ, विधवा, विपत्तिग्रस्त महिलाओ की मदद करना।

8.भारतीय खेलो का विकास करना, खेलकुद की गतिविधियां संचालित करना। युवक कल्याण के लिए कार्य करना। युवाओ के शारिरिक एवं मानसिक, आर्थिक रुप से सक्षम बनाने के लिए कार्य करना।

9.रोजगार मुलक योजनाओ का प्रचार प्रसार करना शासकीय योजनाओ बाबद् महिला पुरुषो को मार्गदर्शन प्रदान करना।

10.संस्था द्वारा दलित बस्ती एंव नगरीय क्षेत्र के परिवारों से सम्पर्क कर बच्चों से मजदूरी का कार्य न कराये जाने हेतु शिविर लगाये जाकर बच्चों को स्कूल भिजवाने का कार्य किया गया।

11.राष्ट्र, धर्म एवं संस्कृति की सेवा एवं रक्षा हेतु गतिविधियां संचालित करना, समस्त प्रकार की सामाजिक कल्याणकारियों एवं योजनाओ को निष्पादित करना।